ब्लू फिल्म सेक्सी शॉट

मासिक पाळी नियमित येण्यासाठी घरगुती उपाय

मासिक पाळी नियमित येण्यासाठी घरगुती उपाय, कामया और रमेश सुनीता और उसके बच्चों को सपोर्ट करते रहे जब तक रवि अच्छा कमाने ना लग गया. रवि जब अपने पैरों पे खड़ा हुआ तो वो ऋतु को साथ ले कर यूके चला गया जहाँ उसने ऋतु के साथ शादी कर ली और दोनो अपनी नई दुनिया में खो गये. वो तुमसे उतना ही प्यार करती है जितना की तुम ...लेकिन देखो ना जैसे तुम अपने हवस के हाथो मजबूर हो गए वो भी हो गई...पैसा और हवस जब दोनो ही साथ मिल जाय तो रुकना बहुत ही कठिन होता है देव….

दोनो धीरे धीरे उस चर्म पे पहुँचने लगे जहाँ आत्माएँ एक दूसरे से मिलने को तत्पर हो जाती हैं और यका यक विमल अपनी गति बहुत तेज कर देता है कामया भी उसी तरहा उसका साथ देती है. दोनो के जिस्म पसीने से लथपथ थे और विमल का लंड बढ़ी तेज़ी से ड्रिल मशीन की तरहा कामया की चूत में सतसट अंदर बाहर हो रहा था. उसे बेल दिलवाओ डॉ वो मेरी बात सुनेगी ,मैं बहक गया था जो मैं उसकी बात नही सुना ,लेकिन इस हादसे से मुझे समझ आ चुका है की मुझे उसकी बातो को सिरियसली लेना चाहिए था

सोनू को जैसे लकवा मार गया हो। वो बुत की तरह जया को देख रहा था, जो उसकी तरफ देखते हुए, एक हाथ से अपनी चूची को ब्लाउज के ऊपर से मसल रही थी और दूसरे हाथ से सोनू के लण्ड को सहला रही थी। मासिक पाळी नियमित येण्यासाठी घरगुती उपाय निशा ने मुझे रोज की तरह नाश्ता दिया,लेकिन आज मैंने उसे उस नजर से देखा जो कभी नही देखा था,पूर्वी के लिए बहुत ही प्यार आ रहा था,मेरी नजरो के बदलाव को निशा ने भी बहुत कुछ समझ लिया था,

ब्लू सेक्सी फिल्म व्हिडिओ

  1. तुम्हारी बहने सलामत है लेकिन तब तक जब तक की हम चाहे..तुम और तुम्हारी दोनो बहने हमारे रेडार में हमेशा रहोगे ..याद रखना जैसा मैं बोलू तुम्हे वैसा ही करना होगा ..
  2. वही निशा मेरे ऊपर झा गई थी वो अपने जिस्म को मेरे बदन पर रगड़ रही थी और अपने होठो और हाथो से मेरे हर अंगों को नहला रही थी, बेस्ट क्रीम फॉर ड्राई स्किन डेली यूज़
  3. मैंने गाड़ी एक चाय की टापरी पर रोकी जो की उनके कालेज जाने के ही रास्ते पर पड़ता ,निशा और मैं नीचे उतरे , रात को माँ को अकेले ही सोना पड़ा. वो सिमिरन के सामने नही खुलना चाहती थी. राम्या सिमिरन को अपने बेड रूम में ले गई और दोनो बिस्तर पे लेट आपस में बातें करने लगी.
  4. मासिक पाळी नियमित येण्यासाठी घरगुती उपाय...काजल के कांच की ओर देखा जिसके दूसरे सिरे में हम उसे देख रहे थे ,उसके चहरे में एक कमीनी मुस्कान खिल गई, पर सोनू तो जैसे अपने होश में ही नहीं था.. वो एक हाथ से रजिया की चूची दबाए हुए था और दूसरे हाथ से उसकी जांघ को सहला रहा था। रजिया ना चाहते हुए भी मदहोश हुई जा रही थी।
  5. बिंदिया का कलेजा मुँह को आ गया.. दिल की धड़कनें मानो जैसे बंद हो गई हों.. और अगले ही पल उसका सर नीचे झुकता चला गया। रानी किचन की तरफ चली गई और रिया बैठी बैठी सोचने लगी – जो उसने किया वो ठीक था या नही – पापा क्या सोचते होंगे.

शादी से पहले चुदाई

उतरते हुए रमेश सोच रहा था कि अभी जो हुआ वो क्या था, क्या वो सोनी के साथ आगे बढ़ सकता है. ये सोच ही उसके लंड में तुफ्फान मचा देती है.

ये कहते हुए रघु ने अपने लण्ड के सुपारे को नीलम की चूत के छेद पर रखा और एक जोरदार धक्का मारा.. रघु का आधे से ज्यादा लण्ड नीलम की चूत में समा गया.. नीलम एकदम से सिसक उठी। छन्डीमल: नही-2 रजनी मैं तुम्हारे हाथ जोड़ता हूँ…..ऐसा वैसा कुछ ना करना… मैं तो पहले से ही मरा हुआ हूँ….अब गाओं वालो के सामने और शर्मिंदा होकर मरना नही चाहता…….

मासिक पाळी नियमित येण्यासाठी घरगुती उपाय,सोनी एक हाथ से विमल के बालों को सहलाने लगती है और दूसरे हाथ से उसके लंड को मसल्ने लगती है. विमल का किस और भी तेज़ हो जाता है और वो सोनी के स्तन मसल्ने लगता है.

रिया चलती हुई उसके करीब पहुँच गई और उसके साथ चिपक कर अपना एक हाथ नीचे ले जाकर पॅंट के उपर से उसका लंड दबाने लगी.

अगली सुबह जब नाश्ते के बाद जब बेला अपने घर जा चुकी थी तो सोनू को रजनी ने बाजार से कुछ सामान लाने के लिए कहा।मराठी सेक्स व्हिडियो

सोनू को समझ में ही नहीं आया कि आख़िर ये सब कैसे हो गया, पर अब वो कर भी क्या सकता था, उसने अपने पजामे को ऊपर करके बांधा और बाहर जाकर हाथ धोने के बाद आकर खाना खाने लगा। सोनू अब भी उसकी चूचियों को मुँह में दबाए हुए ऊंघ रहा था जिसे देख कर एक बार फिर रजनी के होंठों पर प्यार भरी मुस्कान फ़ैल गई।

उसकी गीली योनि में मेरा लिंग फिसलने लगा था ,लेकिन अब भी वो बहुत टाइट था,धीरे धीरे ही सही लेकिन मेरे लिंग का ऊपरी भाग उसके योनि में धंस गया ,वो मछली जैसे छटपटाई लेकिन मेरे होठो को अपने होठो से मिलाते हुए थोड़ी शांत हो गई ,मैं हल्के हल्के धक्के से अपना लिंग उसके अंदर पूरी तरह से प्रवेश करवा दिया…

सोनी इतनी ज़ोर से चूस रही थी, कि सुनीता की ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ निकलने लगी , वो इतनी गरम होने लगी कि सोनी की चूत से अपनी चूत रगड़ने लगी.,मासिक पाळी नियमित येण्यासाठी घरगुती उपाय मैं जब स्विमिंग पुल पर पहुचा तो रश्मि एक बिकिनी में दिखी और मुझे देखकर मुझे स्माइल पास की ,मुझे थोड़ी राहत हुई क्योकि वो मुझसे अब गुस्सा नही है,मुझे देखकर वो पुल से निकली...

News