शेतकरी कर्जमाफी यादी

सेक्सी नंगी चूत

सेक्सी नंगी चूत, मैने कभी सपने में भी नही सोचा था कि मेरे साथ रेप होगा, पर मैं उस वक्त ऐसे हालात में थी कि मेरा बचना नामुमकिन नज़र आ रहा था. ठेले के करीब जाकर मैं उन दोनों के सामने खड़ा हो गया और गोलगप्पे वाले से एक प्लेट लेकर गोलगप्पे खाने को तैयार हो गया।

अगले दिन संजय को लंच पर आना था इसलिए मैं कुछ ज़्यादा मेहनत कर रही थी. गर्मी से परेशान हो कर मैं खिड़की की तरफ गयी तो चैन मिला के बाहर कोई नही है और मैं ठंडी हवा का आनंद लेने लगी. करुणा-सॉरी मेरी स्वीट दीदी सारी ग़लती हमारी ही थी बस आपका रेहान तो लाखों में एक है. प्लीज़ आप ऐसे रूठ कर मत बैठो इधर आप रूठ कर बैठी हैं उधर कूटी कब की रो रही है. अगर आप दोनो ऐसा बिहेव करोगी तो हमारा दिल कैसे लगेगा.

मैने शर्मा कर अपना चेहरा अपने हाथो में छुपा लिया. मैने मन ही मन सोचा ये कभी नही सुधरेगा, पता नही कहा से ऐसी बाते ढूंड लाता है. सेक्सी नंगी चूत नीलम किचन मे चली गयी…और एक ग्लास पानी ले आई…मेने पानी पाया,और नीलम की आँखों मे झाँकते हुए, पानी का ग्लास नीलम मामी को पकड़ा दिया…

मालकिन और नौकर के साथ

  1. राजेश: देख भाई तुझे तो पता है…मे अभी अभी अपनी बेहन के शादी करवा कर आ रहा हूँ…मेरा हाथ भी बहुत टाइट है…पर हां मे किसी को जानता हूँ जो तुम्हारी मदद कर सकता है…
  2. ‘फिर तो यह जगह आपके लिए ज़न्नत है समीर बाबू… यहाँ तो दूध की नदियाँ बहती हैं… और दूध भी इतना स्वादिष्ट कि सब कुछ भुला देता है।’ इस बार भाभी ने अपनी आवाज़ में थोड़ी सी मादकता भरते हुए कहा और एक गहरी सांस ली। शेअर चॅट डाउनलोड व्हिडिओ
  3. पिंकी को ऐसी हालत में देख कर मुझे वो कहावत याद आ गयी की….. जो इंशान दूसरो के लिए खड्‍डा खोदता है, एक दिन खुद उसी में गिरता है . मुझ से बदला लेने के चक्कर में पिंकी खुद बर्बादी की ओर बढ़ रही थी. अब मुझे डर लगने लगा था, उशके इरादे मुझे ठीक नही लग रहे थे. उसकी कार मैं बैठने से पहले जो मुझे अंदेशा हो रहा था वो सच होता नज़र आ रहा था.
  4. सेक्सी नंगी चूत...मालिक,मैने 127 नंबर. वाली कोठी के रामभाजन को कह दिया है,उसका भतीजा गणेश रोज़ आकर काम कर जाएगा...क्या करू मलिक, बात ही ऐसी है,जाना तो पड़ेगा-.. प्राची-ओह हो मेरी स्वीट दीदी मैं कहाँ कुछ कर सकती हूँ आपके साथ मैं तो सिर्फ़ इतना देखना चाहती हूँ कि रेहान ने आपकी रानी का क्या हाल किया है आज.
  5. अभी एक दम से मेरे ऊपेर आ गया…और अपने तने हुए लंड की चमड़ी को पीछे करके अपने लंड के गुलाबी सुपाडे को बाहर कर दिया…और मेरे मुँह के पास आकर अपने लंड के सुपाडे को मेरे होंटो पर रख दिया…अपने होंटो पर अभी के लंड की रगड़ महसूस करके मे एक दम से सिहर गयी…. अचानक से यह सुनकर मैं थोड़ा चौंक गया कि आखिर ऐसी क्या जरूरत हो गई जो अरविन्द भैया ने मुझे याद किया है.. कहीं उन्हें कोई शक तो नहीं हो गया… कहीं रेणुका और मेरी चोरी पकड़ी तो नहीं गई?

ऐश्वर्या का सेक्स वीडियो

अभी: साली उसी को तो आज चुदाई का खेल दिखाना है. और तू नखरे कर रही है. चल जल्दी कर अब ये शरम छोड़ दे. आज तेरी बेटी की सुहागरात है मेरे साथ. फिर कल से जब चाहे खुले आम मेरा लौदा अपनी भोसड़ी मे लेकर चुदवा लेना.

जैसे ही नेहा ने अपने नंगी चुचियो पर अभी के हाथों को महसूस किया. नेहा एक दम से कसमसाने लगी. और उसके मुँह से अह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह्ह बाबू जीईई निकलने लगा. मेने कुछ पलों के लिए नेहा को पीछे धकेलने की कॉसिश की. पर नेहा लगतार मेरी चूत को नाइटी के ऊपेर से मसल रही थी. और कुछ पलों बाद मुझे मज़ा आने लगा. और मे भी नेहा को अपनी बाहों मे कस लया. और नेहा के होटो को किस करने लगी.

सेक्सी नंगी चूत,तो मैं तुम्हे अपनी बाहों में थाम लूँगा जान, मैं हूँ ना. मैं तुम्हे अपनी गोदी में ले कर चलूँगा ----- मैने ऋतु के गाल को छू कर कहा

मे जब पेशाब करके बाहर आया…तो मेरा लंड खुशी के मारे कुलाँचे भरने लगा… सामने वो दिल कश हसीना मेरे बेड पर लेटी हुई थी…उसकी पीठ आज भी मेरी तरफ थी…मेने गॉर से देखा…मामी का पेटिकॉट उनके घुटनो तक ऊपेर चढ़ा हुआ था.. जैसे आज वो उसे जान बुझ कर ऊपेर उठ कर लेटी हुई हों…

नेहा के कदम वहीं थम गये…शायद वो बहुत ही घबरा गयी हो गी…अभी नेहा के पास गया…और उसके पीछे जाकर उससे एक दम सॅट कर खड़ा हो गया…हाल की लाइट जल रही थी…अभी का लंड अभी भी उसके अंडरवेर मे तन कर उभार बनाए हुआ था…जो नेहा के कूल्हे के एक साइड पर टच हो रहा था…नेहा की पीठ अभी की तरफ थी…কলকাতা সোনাগাছি বিএফ

मुझे नही पता, मुझे बस एक अहसास है कि मैं तुम्हारे बिना नही रह सकता. तुम्हारे शरीर को पा कर में तुम्हारी आत्मा तक पहुँच गया हूँ. और पता है मैने क्या पाया है वाहा पहुँच कर ? ---- बिल्लू ने मेरी आँखो में देख कर पूछा मैं कमीना, जैसे ही भाभी ने दूध का बर्तन कहा, मेरी नज़र फिर से उनकी चूचियों पर चली गईं जो तेज़ तेज़ साँसों के साथ ऊपर नीचे होकर थरथरा रही थीं…

हमे..हमे माफ़ कर दो.कल तुमने जो भी कहा वो बिल्कुल सच था.अगर रवि की मौत का कोई ज़िम्मेदार है तो वो मैं हू.अगर मैं ज़िद ना करता तो शायद वो हुमारे बीच इस घर मे होता.इंसान का दिल बड़ी अजीब चीज़ है,रीमा.ग़लती मेरी थी पर उसे मानने के बजाय मेरे दिल ने तुम्हे गुनहगार बना दिया & तुमसे नफ़रत करने लगा.

वो बोला, तुझे पता है तेरी फिगर कितनी मस्त है, मैने अक्सर तुझे शाम को मार्केट में तेरे पति के साथ देखा है.,सेक्सी नंगी चूत ज़रूरत है मेंसाब् आप तो कुछ और ही बाते कर रहीं है, आप की खातिर मैं अपनी संजना मेंसाब् को धोका दे रहा हूँ और आप है कि मुझे यू ही तरका रही है ---- ड्राइवर ने पिंकी की और देखते हुवे कहा.

News