कल का तापमान कैसा रहेगा

लालबागचा राजा विसर्जन

लालबागचा राजा विसर्जन, भाभी इस समय अपने होशो हवास में नही लग रही थी, वासना उनके सर पर सवार थी, जो उनकी हरकतों से साफ-साफ लग रहा था… वो उसे धीरे-2 सहलाने लगी, अभी वो उसे बाहर निकालने के बारे में सोच ही रही थी, कि भाभी की आवाज़ ने उसे रोक दिया…

मे उनकी बात सुनकर हड़बड़ा गया.. और झेन्प्ते हुए बोला – व.व.वो.. मे ..तो.. बस… ऐसे ही बोला.. कि अभी कुच्छ घंटों में ही रूचि अपनी मौसी के फेवर में बोलने लगी… मेने अपनी चाल और तेज करदी… लेकिन मौसम से तेज नही चल सका… और तेज बौछारो के साथ बारिश ने मुझे घेर लिया…,

वो दोनो भी कुच्छ सालों पहले एक साथ स्कूल जाना, साथ खेलना बैठना काफ़ी सालों तक रहा था, आज वो दोनो अपनी पुरानी बातों, साथ बिताए लम्हों को याद करते जा रहे. लालबागचा राजा विसर्जन खुशी ने अपने होठ कसकर बंद कर रखे थे, फिर भी उसके मूह से उउउन्नग्ज्ग…जैसी आवाज़ निकल ही गयी, और मेरा सुपाडा उसकी चूत की पतली सी झिल्ली से जा टकराया…

सेक्सी ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो

  1. 15-20 मिनिट तक हम दोनो ही जमकर चुदाई में लगे रहे.. अब वो भी अपनी गान्ड उछाल-2 कर मस्त होकर चुद रही थी…
  2. एक दो बार भाभी को भी हमने गाओं में रिक्शे में बिठाकर घुमा दिया, उनकी प्रेग्नेन्सी की हालत में भी लोगों से मिलने से ख़ासकर महिलाओं पर ख़ासा प्रभाव पड़ा… कानपूर कॉल गर्ल
  3. वो – अरे पंडित जी, असली खुशी तो अभी तक आपने कहाँ दी है…ये कह कर उसने मेरे पाजामे के उपर से मेरे लंड को पकड़ लिया, और मसल्ते हुए बोली – ये चाहिए मुझे… आदम वैसे ही धक्का पेलता हुआ चूत से सटासट लंड को अंदर बाहर कर रहा था....माँ की चूत की चिकनाई लिंग को अपने द्वार से बाहर धकेलते हुए जैसे वापिस ढीला छोड़े खुद के अंदर ले रही थी.....आदम को ऐसा महसूस हो रहा था की जैसे उसका लंड की गरम भट्टी के
  4. लालबागचा राजा विसर्जन...लड़की की दर्द भरी कराह निकल गयी.., अभी वो उसके साथ कुछ और ज़्याददती करते… कि जिधर उन्होने उस लड़की के कपड़े फेंके थे… उधर से एक आवाज़ आई…! वो बोले – अरे ! भाई तुम लोग बोलो… कितना पैसा चाहिए.. मे देता हूँ ना ! तुम लोगों को काम करने की क्या ज़रूरत है…
  5. मामी ने भी अपनी गान्ड का दबाब मेरे लंड पर डालते हुए कहा – रहने दो मुझे ऐसे ही कुछ लगा होगा… और वो फिर से मालिश करने में लग गयी… मस्ती में उसकी आँखे बंद हो गयी, अपनी एक टाँग उठाकर उसने मेरे कंधे पर टिका ली, और मेरे सर के बालों में अपनी उंगलियाँ फँसाए, वो किसी दूसरी दुनिया की सैर पर निकल पड़ी…

செக்ஸ்வீடியோ காம்

अब मे उसके टाँगों के बीच आकर घुटने टेक कर बैठ गया, और उसकी जांघों को अपनी जाँघो के उपर रख कर उसकी चुचियों को अपने हाथों में कस कर मसल दिया…

वो थोड़ा दुखी स्वर में बोले – सच कहूँ मेरे भाई, तो मुझे भी अब उससे नफ़रत सी होने लगी है, उसकी आदतें बहुत खराब हैं… जिन्हें मे तुम्हें बता भी नही सकता… हमारे आगे रामा और आशा दीदी थी, और उन दोनो के आजू बाजू सोनू और मोनू बैठे थे, मोनू रामा दीदी की तरफ और सोनू आशा दीदी की तरफ.

लालबागचा राजा विसर्जन,दूसरे दिन रूचि और भैया के जाने के बाद मे भाभी के पास जाकर बैठ गया…और उन्हें वो वीडियो ओपन करके चला दिया…जिसमें मालती को होटेल ले जाकर बीयर पीला कर चोदा था…

ऐसी ही प्यार भरी छेड़-छाड़ और खट्टी-मीठी यादों के चलते मेरा एक हफ़्ता उनके घर पर कब निकल गया मुझे पता ही नही चला..

खैर ये तो अच्छा ही हुआ, क्योंकि वो भी उनसे छुटकारा पाना चाहते थे, सो उन्होने अपनी तरफ से पहल करते हुए, डाइवोर्स केस फाइल कर दिया….!ಕನ್ನಡ ಹಿಂದಿ ಸೆಕ್ಸ್

वो तो जैसे तैयार ही बैठी थी, सो फ़ौरन आने को तैयार हो गयी, और इसी खुशी में झूमती हुई भानु के रूम की तरफ चली गयी…, मे अपनी कामयाबी की खुशी में हॉस्पिटल से बाहर की तरफ चल दिया… उसने मेरे कूल्हे पर एक ज़ोर की चपत मारी.. और मेरे लंड को मसल कर बोली – अब तो चाहे जो भी हो… इसे तो मे आज लेकेर ही रहूंगी अपनी चूत में.. भले ही साली फट ही क्यों ना जाए…!

मेने आगे कहा – क्योंकि मे तुम्हारे बच्चों का बुरा नही चाहता, कमिशनर साब ज़्यादा से ज़्यादा तुम्हें कुच्छ दिनों के लिए सस्पेंड ही करेंगे…

अंत में उसने मेरे सर को अपनी मोटी-मोटी जाँघो के बीच कस लिया और अपनी गान्ड को हवा में उठाकर झड़ने लगी,,लालबागचा राजा विसर्जन निशा हैरत के साथ बोली – क्या..? आपने गान्ड भी मरवा ली, वाउ दीदी.. यू आर ग्रेट.., फिर हँसते हुए बोली - देखाओ तो फटने के बाद कैसी लग रही है ?

News