संभ्रम वाक्यात उपयोग मराठी

नंगी सेक्स चुदाई

नंगी सेक्स चुदाई, मैं बोला अब तुम किसी बारे मे, कुछ भी मत सोचो. तुम्हारे मन मे, जो भी सवाल है, मैं तुम्हारे हर सवाल का जबाब दूँगा. यदि तुम मुझसे घर वापस चलने का बोलोगि तो, मैं तुम्हारे साथ घर भी वापस चलुगा. लेकिन इस सब के लिए, तुम्हे जल्दी से अपनी तबीयत सही करना होगी. बोलो करोगी ना. प्रिया बोली मुझे अब तुमसे कोई बात नही करना और ना ही अब मैं तुम्हारी सूरत देखना चाहती हूँ. तुम्हारे लिए अच्छा यही होगा कि, कल अपने बाप के साथ तुम भी मेरे घर से चले जाओ.

मेरी बात सुनकर भी अजय कही खोया हुआ सा बस सिगरेट फुके जा रहा था. उसकी आँखे ना जाने क्यो लाल हो गयी थी. जब उसकी एक सिगरेट ख़तम हो गयी तो, उसने दूसरी सिगरेट जलाई और उसके 2-3 गहरे कश लगाने के बाद मेरी तरफ देखते हुए कहा. अब प्रिया की बातें मेरे लिए सह पाना मुस्किल हो रही थी. मैं समझ गया था कि वो अभी बहुत गुस्से मे है और अभी मेरी कोई बात नही सुनेगी. इसलिए मैने उस से कहा.

इतना कह कर, अजय हमारे पास से उठ कर आरू के पास चला गया. हम दोनो उसे जाते देखते रहे. उसने अंजाने मे ही उस परिवार की मदद कर दी थी. जो मदद उसे सब कुछ पता चलने पर करनी थी. अजय के जाने के बाद, अमन ने मुझसे कहा. नंगी सेक्स चुदाई मगर नीचे आने पर भी मुझे कोई ऐसी जगह समझ मे नही आई, जहाँ मैं कीर्ति से बात कर सकूँ. इसलिए मैं घर से बाहर निकल कर आ गया. लेकिन अब मैं सड़क पर बात करने वाली पहले जैसी ग़लती को दोहराना नही चाहता था.

देसी गांव की एक्स एक्स एक्स

  1. मगर अमन ने मुझे समझाया कि, हमने जो किया है. वो किसी तरह से भी ग़लत नही है. शिखा को मैं अपने परिवार की एक सदस्या समझता हूँ और इस पर उसका पूरा हक़ था. ये मेरी मजबूरी है कि, मैं अभी उस पर ये बात जाहिर नही कर सकता.
  2. मैं बोला दीदी आप लोग एक मिनट रुकिये. क्या आप लोगों को ऐसा लगता है कि, आपके भैया गुस्से मे कोई ग़लत कदम उठा सकते है. यदि आप मानती है कि, वो ग़लत कदम उठा सकते है तो, आप बेशक उनके पास जाकर, उन्हे ऐसा करने से रोकिए. लेकिन यदि आपको ऐसा नही लगता तो, आपको कही भी जाने की ज़रूरत नही है. सेक्स सेक्सी मराठी
  3. इसके बाद, उसने बर्तन वाली लिस्ट राज को पकड़ा कर उस से वो सब मंगवाने को कहा और फिर उसने मुझसे और हीतू से अपने साथ चलने को कहा. हम दोनो नेहा की बात सुनकर, उसके साथ चलने लगे. सीरत बोली हमे माला डालने की कोई जल्दी नही है. तुम अपनी दीदी को ऐसे ही लेकर खड़े रहो. हम भी देखते है, कि तुम ऐसे उन्हे कितनी देर तक लेकर खड़े रहते हो.
  4. नंगी सेक्स चुदाई...मैं बोला दीदी, आप ये कैसी बात कर रही है. आप कभी अंजाने मे भी, किसी के दिल को चोट नही पहुचा सकती. भले ही सब आपके दिमाग़ को शैतानी दिमाग़ कहते हो. लेकिन मैने देखा है कि, आपके इस शैतानी दिमाग़ से हमेशा किसी का, कुछ ना कुछ भला ही होता है. ये कहते हुए सीरू ने, सेलू के हाथ मे थामे, एक नेकलेस बॉक्स को खोल कर, मोहिनी आंटी की तरफ उछाल दिया. जिस से उस बॉक्स मे से, एक चम-चमाता हुआ गोलडेन नेकलेस सेट निकल कर, ज़मीन पर आ गिरा. सीरू की इस हरकत से जहा सन्न रह गये. वही मोहिनी आंटी की भी बोलती बंद हो गयी.
  5. छोटी माँ बोली आज कल तू बहुत बातें बनाने लगा है. जब भी कॉल करो, बस एक ही बात बोलता है कि, आपको ही याद कर रहा था. मेहुल बोला लो नाम लिया शैतान का और शैतान हाजिर हो गया. अब आप ही इसको सम्भालो, मैं तो चला यहाँ से वरना अभी झगड़ा सुरू हो जाएगा.

नंगी चुदाई की चुदाई

सुबह 7 बजे मेरी नींद निक्की के जगाने पर खुली. उसने हमेशा की तरह मुस्कुराते हुए मुझे जगाया और फिर मुझे तैयार होने का बोल कर वापस चली गयी. उसके जाने के बाद, मैं भी फ्रेश होने चला गया.

सीरत बोली आंटी, दोनो शादी बहुत ही जल्दी मे हो रही है. इसलिए शादी मे ज़्यादा नही, सिर्फ़ 4-5 करोड़ ही खर्च हो रहा है. एक तो मैं प्रिया की हरकतों से तनाव मे आ गया था. उस पर रिया के मूह से ये सवाल सुनकर, मेरा तनाव और भी बढ़ गया. मुझे रिया के इस सवाल का कोई जबाब नही सूझा तो, मैने निक्की को कॉल लगा दिया. निक्की के कॉल उठाते ही मैने कहा.

नंगी सेक्स चुदाई,छोटी माँ बोली ये अचानक तेरी तबीयत को क्या हो गया. सुबह भी तूने कुछ नही खाया और अब रात को भी खाने से मना कर रही है.

मेरे कसम खाने के बाद, उसका गुस्सा शांत हो गया. उसने मुझे यकीन दिलाया कि उसकी तबीयत ठीक है और फिर उसने रात को बात करने की बात कह कर कॉल रख दिया. मगर कीर्ति को लेकर, अभी भी ना जाने क्यो, एक अंजाना सा डर मुझे सता रहा था.

अजय की बात सुनकर, बरखा वापस शिखा के पास चली गयी. शिखा अब भी दरवाजे पर ही खड़ी थी. हम गेट के पास आए तो, वहाँ खड़ी लड़की के चेहरे पर अजय को देख कर मुस्कुराहट आ गयी.सुनीता विल्यम्स विषयी माहिती

मैं बोला देखो प्रिया, ऐसी ज़िद नही करते. तुम्हे अभी आराम करने की ज़रूरत है. यदि तुमने मेरी बात नही मानी तो, मैं अभी निशा भाभी को कॉल करके तुम्हारी शिकायत कर दूँगा. मेरी बात को सुनते ही एक बार फिर अजय के चेहरे के भाव बदल गये और उसका चेहरा किसी पत्थर की तरह सख़्त नज़र आने लगा. उसने अपने दोनो हाथ मेरे कंधों पर रख दिए और अपनी पथराई आँखों से मुझे देखते हुए कहा.

ये कहते हुए मैने एक चेयर खीची और सेंट्रल टेबल के पास आकर बैठ गया. मुझे बैठते देख अजय भी एक चेयर पर बैठ गया. अभी हम खाना खाना, शुरू ही करने वाले थे कि, तभी मुझे बाहर से किसी लड़की की आवाज़ आती सुनाई दी.

शिखा की बात सुनकर, अजजी कुछ सोच मे पड़ गया. उसने अमन को कॉल लगा कर, सारी बात बताई. जिसके बाद अमन ने भी शिखा की बात पर सहमति दे दी. आज्जि ने ये बात सबको बताई तो, सब खुश हो गये. मगर बात सुनने के बाद, सीरू ने बड़ी धीरे से कहा.,नंगी सेक्स चुदाई लेकिन शिखा को उनकी ये सब हरकतें समझ मे नही आ रही थी. उसे लगा कि, वो दोनो अज्जि की बात का ग़लत मतलब निकल रही है. इसलिए उसने दोनो को समझाते हुए कहा.

News